language
Hindi

बुध का मकर राशि में गोचर: जानिए आप पर प्रभाव

view3282 views
वैदिक ज्योतिष के अंतर्गत बुध को बुद्धिमत्ता, बौद्धिक क्षमता और संचार का ग्रह माना जाता है। जिस व्यक्ति की कुंडली में बुध की स्थिति अच्छी होती है, उसे तीव्र बुद्धि वाला जातक माना जाता है, वह सोचने-समझने में बहुत तेज होता है, वहीं बुध के अशुभ प्रभाव की वजह से यह परिणाम इसके उलट साबित होते हैं। 

28 जनवरी रात 1:13 मिनट पर बुध ग्रह धनु राशि बदलकर मकर राशि में गोचर किया है। जाहिर तौर पर इस परिवर्तन का प्रभाव सभी राशियों पर देखने को मिलेगा, आपके लिए बुध का यह गोचर क्या लेकर आया है, आइए जानें राशि अनुसार। 

मेष राशि 

बुध का यह गोचर आपकी राशि के दसवें भाव में हुआ है, बुध की यह स्थिति दर्शाती है कि इस दौरान आप अपने कार्यस्थल पर अच्छा और सराहनीय प्रदर्शन करने जा रहे हैं। आपका व्यक्तित्व भी इस दौरान बहुत निखर जाएगा और आपका व्यक्तिगत विकास भी संभव है। आप अपने शौक को अपनी आय का ज़रिया बना सकते हैं। गोचर के दौरान छोटी दूरी की यात्रा पर जा सकते हैं।

वृषभ राशि 

आपकी राशि के जातकों के लिए बुध का यह गोचर नौंवे भाव में हुआ है, जो आपकी आमदनी में वृद्धि कारक साबित होगा। उच्च शिक्षा के लिहाज से यह समय बहुत लाभदायक है, साथ ही परिवार और प्रेमी के साथ भी आपका अच्छा तालमेल बना रहेगा। आप अपने परिवार के साथ किसी लंबी दूरी की यात्रा पर भी जा सकते हैं। आपका जीवनसाथी या प्रेमी-प्रेमिका आपसे बहुत इम्प्रेस्ड रहेंगे। 

मिथुन राशि 

आपकी कुंडली के अनुसार बुध का यह गोचर आपके आठवें भाव में होगा जो सेहत के लिहाज से सही नहीं कहा जाएगा। इसलिए स्वास्थ्य पर ध्यान देने की ज़रूरत है। बुध के प्रभाव के कारण आपको अचानक कोई आर्थिक लाभ हो सकता है। शायद कहीं से कोई शुभ समाचार भी प्राप्त हो सकता है। पारिवारिक जीवन में तनाव रहने की वजह से मन विचलित रह सकता है अतः आपको संयम रखने की आवश्यकता है। 

कर्क राशि 

आपकी राशि के अनुसार यह गोचर आपकी कुंडली के सातवें भाव में हुआ है, यह इस बात को दर्शा रहा है कि विदेश से आपको कोई अच्छी खबर सुनने को मिल सकती है। अगर पार्टनरशिप में कोई नया बिजनेस शुरू करने जा रहे हैं तो उसके लिए यह बेहतरीन समय है। कार्यस्थल पर भी आपके काम को सराहा जाएगा लेकिन एक बात का ध्यान आपको अवश्य रखना चाहिए कि अहंकार ही इंसान को ले डूबता है। आपको अपना लक्ष्य पाने के लिए बहुत मेहनत करनी होगी। 

सिंह राशि 

बुध का गोचर आपकी कुंडली के छठे भाव में होगा, जो आपके लिए आर्थिक नुकसान लेकर आ रहा है। इस दौरान कोई भी बड़ा निर्णय ना लें, नुकसान मिलने की उम्मीद है। इसके अलावा अगर किसी को आपकी राय की आवश्यकता है तो आप बहुत सोच-विचार के बाद ही उन्हें कुछ सलाह दें। कार्य स्थल पर वरिष्ठ अधिकारियों के साथ अनबन हो सकती है, विवाद को ज्यादा तूल ना दें। 

कन्या राशि 

बुध का यह गोचर आपकी कुंडली के पांचवें भाव में होने जा रहा है, यह छात्रों को उत्तम सफलता देने वाला है। खासकर वो छात्र जो उच्च शिक्षा के लिए मेहनत कर रहे हैं, उनके लिए फलदायी समय है।  आपको अपने बच्चों के साथ अच्छा समय व्यतीत करने का अवसर प्राप्त होगा। इस अवधि के दौरान जो भी अवसर हाथ लगे उसका भरपूर लाभ उठाएं। 

तुला राशि 

आपकी कुंडली के चौथे भाव में होने जा रहा है बुध का ये गोचर, इसके फलस्वरूप आपके परिवार में शांति और सद्भावना बनी रहेगी। अगर आप नया घर खरीदने या अपने घर को ही दोबारा से बनवाने का विचार कर रहे हैं तो इस दौरान आप ऐसा कर सकते हैं। घर से दूर रहने वाले लोगों को अपने परिजनों के साथ मिलना हो सकता है। समझदारी से काम लें और अपनी वाणी पर नियंत्रण रखें। 

वृश्चिक राशि 

बुध का यह गोचर आपकी कुंडली के तीसरे भाव में होगा, जिसके परिणामस्वरूप आपको अपने भीतर नई ऊर्जा का संचार होता महसूस होगा। आपको नई-नई चीजें सीखने को मिलेंगी और आपके ज्ञान में भी वृद्धि संभव है। आपको छोटी दूरी की यात्रा करने से लाभ होगा। 

धनु राशि 

बुध ग्रह का यह गोचर आपकी कुंडली के दूसरे भाव में होगा, जिसके परिणाम स्वरूप कार्य स्थल पर आपके काम की प्रशंसा होगी। इस अवधि में आर्थिक लाभ होने की संभावना भी बन रही है। आपको संयमित भाषा का इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है। बुध के गोचर के दौरान सेहत से जुड़ी समस्या परेशान कर सकती हैं इसलिए छोटी से छोटी बीमारी की अनदेखी ना करें। 

मकर राशि
 
बुध का यह गोचर आपकी ही राशि के लग्न में होने जा रहा है, बुध के प्रभाव से आपके मान-सम्मान और सामाजिक प्रतिष्ठा में अत्याधिक वृद्धि होने जा रही है। इस दौरान आप बेहतर सामाजिक संबंध स्थापित करेंगे और आपको नई पहचान और सराहना मिलेगी। वे हर अच्छी और बुरी परिस्थिति में परिजन, शिक्षक व सलाहकार आपकी मदद करने के लिए तैयार रहेंगे। ससुराल पक्ष से सहयोग मिलने की उम्मीद है। 

कुंभ राशि 

बुध का गोचर आपकी राशि के बारहवें भाव में होगा, जो छात्रों के लिए विशेष रूप से लाभकारी रहने वाला है। इस अवधि में बहुत से जातक यात्रा की योजना बना सकते हैं, जो सफल भी रहेगी। प्रेम संबंधी जीवन में विभिन्न चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा, पार्टनर के साथ बेवजह का विवाद भी झेल सकते हैं। आप अपने विरोधियों से हर क्षेत्र में आगे रहेंगे।

मीन राशि 

बुध का यह गोचर आपकी कुंडली के ग्यारहवें भाव में होने जा रहा है, जिसके परिणामस्वरूप आपका विवाहित जीवन आनंदपूर्वक बीतेगा। आपके जीवनसाथी के साथ नजदीकियां बढ़ेंगी और प्रेमी जनों के लिए भी समय अच्छा रहेगा। वे लोग जो अपनी संपत्ति को बेचने या फिर उसे किराये पर देने का विचार बना रहे हैं सफलता हासिल हो सकती है। आपकी पुरानी इच्छाएं भी पूर्ण होंगी। 
आपको यह आलेख कैसा लगा, अपनी टिप्पणी हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं
टिप्पणी