language
Hindi

होली की रात मात्र एक शास्त्रीय उपाय बदल देगा आपकी किस्मत

Apr 30, 2018
view325 views

हिन्दू पंचांग के अनुसार फाल्गुन मास की पूर्णिमा की रात में होलिका दहन किया जाता है। और इसके अगले दिन रंगों के साथ होली खेली जाती है।

शास्त्रों में मुहूर्त के अनुसार कार्य करने का महत्व है, इसलिए हर पर्व एवं त्यौहार से पहले लोग शुभ मुहूर्त जानने के लिए इच्छुक होते हैं। लेकिन मुहूर्त के साथ शास्त्रों में त्यौहार के दौरान कुछ धार्मिक कर्म-कांड करने का उल्लेख किया गया है।

त्यौहार का समय हर कार्य के लिए शुभ माना जाता है और यदि इसी दौरान कुछ धार्मिक कार्य भी किए जाएं तो उसका अधिक फल मिलता है। होली की रात तो वैसे भी पूजा और ज्योतिष के उपाय करने के लिए बहुत शुभ मानी जाती है। इसलिए आज हम आपको कुछ ऐसे उपाय बताने जा रहे हैं जिन्हें करने से आपको आने वाले पूरे वर्ष में सुख और समृद्धि की प्राप्ति होगी।

होली के दौरान कुछ मंत्रों का जप करने से आप महालक्ष्मी की कृपा प्राप्त कर सकते हैं। होली की रात देवी महालक्ष्मी सहित इष्ट देवी-देवताओं की विधिवत पूजा करनी चाहिए। विशेष रूप से महालक्ष्मी जी के मंत्रों का जप तो अवश्य करें। मंत्र जप 108 बार या 1008 बार किया जा सकता है। मंत्र जप के लिए कमल के गट्टे की माला का उपयोग करना चाहिए। इस मंत्र का जप करें:

मंत्र: ऊँ श्रीं महालक्ष्म्यै नम:।

आपको यह आलेख कैसा लगा, अपनी टिप्पणी हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं
टिप्पणी