language
Hindi

नवरात्रि के नौ दिनों में करवाएं अपने निमित्त विशेष अनुष्ठान और पाएं आदि शक्ति का आशीर्वाद

view1464 views

नवरात्रि के नौ दिनों अदि शक्ति के प्रमुख नौ स्वरूपों की पूजा के लिए सबसे शुभ माने जाते हैं। यह नौ दिन हिन्दू कैलेंडर के अनुसार वर्षभर में 2 बार आते हैं, पहला चैत्र के महीने और दूसरा अश्विन माह में आने वाले शारदीय नवरात्रि।

ये दोनों ही नवरात्रि भिन-भिन्न प्रकार से महत्वपूर्ण होते हैं लेकिन कुछ मूलभूत संस्कार या मान्यताएं दोनों में ही समान हैं। ऐसी मान्यता है कि जो व्यक्ति नवरात्रि के इन पावन दिनों में देवी की उपासना करता है, पूरी श्रद्धा के साथ उनका ध्यान करता है, उसे अवश्य ही आदि शक्ति की कृपा प्राप्त होती है।

कन्या पूजन, हवन-अनुष्ठान, खेत्री बीजना....ये नवरात्रि के दिनों में विशेष फलदायी होते हैं। परंतु अगर किसी कारणवश या सुविधाओं के अभाव में आप ऐसा नहीं कर पा रहे हैं तो एस्ट्रोस्पीक के माध्यम से आप नवरात्रि के दिनों में विशेष पूजा करवाकर देवी मां की कृपा प्राप्त कर सकते हैं। हमारे प्लैटफॉर्म पर मौजूद प्रशिक्षित आचार्य और जानकार आपके निमित्त ये अनुष्ठान करेंगे, जिसका फल आपको और आपके परिवार को अवश्य मिलेगा।

अगर आप भी इन विशेष अनुष्ठानों में भाग लेना चाहते हैं तो निम्नलिखित लिंक्स पर क्लिक करें, आप इनमें जो भी पूजा करवाना चाहते हैं उसकी सभी डीटेल्स उस लिंक पर आपको उपलब्ध हो जाएगी:


अष्टमी और नवमी पर कन्या पूजा: 25 मार्च और 26 मार्च


सामूहिक नवरात्रि पूजा (18 मार्च से 26 मार्च)


नवरात्रि के अवसर पर भौतिक समृद्धि और सौभाग्य प्राप्ति के लिए करवाएं 9 दिनों की दुर्गा सहस्रनाम पूजा (18 मार्च से 26 मार्च)


खेत्री, कलश स्थापना और अखंड ज्योत के साथ नौ दिनों का नवरात्रि अनुष्ठान (18 मार्च से 26 मार्च)


आपको यह आलेख कैसा लगा, अपनी टिप्पणी हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं
टिप्पणी