language
Hindi

सूर्य का कन्या राशि में गोचर, जानें राशि अनुसार प्रभाव

view499 views

सूर्य प्रसिद्धि और भाग्य का कारक माना जाता है। जब भी सूर्य अपनी राशि परिवर्तन करता है तब 12 राशियों पर गहरा प्रभाव डालता है। सूर्य किस राशि में जा रहा है ये अत्यधिक माइने रखता है क्योंकि ग्रहों का परिवर्तन आपस में मित्र और शत्रु राशि के अनुसार ही प्रभाव डालता है।


ग्रहों का गोचर कई बार जीवन में उतार-चढ़ाव भी लाता है। 17 सितंबर 2018 को सूर्य अपनी मित्र राशि कन्या में प्रवेश कर चुके हैं। ये गोचर सोमवार सुबह 7 बजकर 3 मिनट पर हो चुका है। कन्या राशि में सूर्य 17 अक्टूबर 2018 यानि 1 महीने तक रहेंगे। इस राशि परिवर्तन से कई लोगों के करियर और व्यवसाय पर असर देखने को मिलेगा।


मेष


सूर्य इस राशि से छठे भाव में गोचर करेगा। इस गोचर का मेष राशि वालों पर अच्छा प्रभाव देखने को मिलेगा। काफी लंबे समय से आप करियर और व्यवसाय में परेशानी का सामना कर रहे हैं लेकिन इस गोचर के बाद आपको अच्छे परिणाम देखने को मिलेंगे। छात्र वर्ग के लिए खुशखबरी है क्योंकि इस दौरान प्रतियोगी परीक्षाओं में आपको सफलता मिल सकती है। कार्यक्षेत्र और व्यवसाय में आप अच्छा प्रदर्शन करेंगे जिस वजह से आपके उच्च अधिकारी भी आपकी तारीफ करेंगे। यहां आपको सिर्फ तारीफ नहीं मिलेगी बल्कि अच्छे कार्य की वजह से आपको प्रमोशन भी मिल सकता है।


उपाय

“ऊं ह्रां ह्रीं ह्रौं स: सूर्याय: नम:” मंत्र का जाप करें साथ ही सूर्य को जल चढ़ाएं।


वृष

इस राशि से पंचम भाव में सूर्य का गोचर होगा। इस परिवर्तन से वृष राशि के जातकों को थोड़ी परेशानी हो सकती है खासकर कि आप फैसले लेने में दिक्कतों का सामना करेंगे। आपका मन विचलित रहेगा और किसी एक निर्णय पर पहुंचने में आपको काफी देर लगेगी। कार्यक्षेत्र, व्यवसाय में जरा सोच समझकर कार्य करें, उच्च स्तर पर बैठे अधिकारी से आपका झगड़ा हो सकता है। सूर्य आपको परेशानी के अलावा कई लाभ भी पहुंचाएगा। करियर में आपको अपार सफलता मिलने के योग बन रहे हैं। यात्रा पर जाने की सोच रहे हैं तो ये प्रतिकूल साबित हो सकता है।


उपाय

रविवार के दिन किसी भी लक्ष्मी नारायण मंदिर में लाल कपड़े का दान करें।


मिथुन

इस राशि से चौथे भाव में सूर्य गोचर करेगा। मानसिक तनाव और कमजोरी का सामना करना पड़ सकता है लेकिन आप इससे उभर जाएंगे। शत्रुओं से सावधान रहने की आवश्यकता है साथ ही किसी पर भी आंख मूंदरकर भरोसा ना करें, लोग मित्र के भेष में आपसे छल कर सकते हैं। यदि आप मानसिक तनाव से ग्रस्त होते दिखें तो अपने लिए कोई मनोरंजन का साधन जरूर ढूंढ लें। अकेले रहना तनाव को और बढ़ा सकता है। परिवार के लिए मिलाजुला समय रहने वाला है लेकिन आपके और परिवारजनों के मतभेद हो सकते हैं।


उपाय

रविवार के दिन किसी गरीब को गेंहूं का दान करें।


कर्क

इस राशि के तृतीय भाव में सूर्य का गोचर हो रहा है लिहाजा स्वास्थ्य सुधरने की उम्मीद है।

शुभ सूर्य समाज में मान-सम्मान और प्रतिष्ठा दिलवाता है अत: ये गोचर आपकी सामाजिक छवि को और सकारात्मक बनाएगा। ऊंचे लोगों में आपका उठना बैठना होगा। नौकरीपेशा लोगों के लिए ये गोचर अच्छा साबित होगा। आपके सीनियर्स आपके काम से प्रसन्न रहेंगे। पद्दोन्नति के योग बन रहे हैं लेकिन मेहनत करना मत छोड़िएगा।


उपाय

“ॐ घृणि सूर्याय नम:!!” मंत्र का जाप करें।


सिंह

सिंह राशि के द्वितीय भाव में सूर्य का गोचर होगा। इस दौरान आपको थोड़ा संभलकर चलना होगा। ये एक महीना जब तक सूर्य कन्या राशि में रहेगा आपको मानसिक और शारीरिक रूप से थोड़ी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। पारिवारिक रिश्तों के लिए भी समय कुछ ठीक नहीं है। लड़ाई-झगड़ों के योग बन रहे हैं बुखार, सिरदर्द और आंखों से जुड़ी परेशानी हो सकती है। इस दौरान आपको थोड़ा सतर्क रहने की आवश्यकता है भारी नुकसान पहुंचने की आशंका है।


उपाय

रविवार के दिन गरीब और जरूरतमंद मरीजों को दवा का दान करें।


कन्या

सूर्य का गोचर आपकी राशि में प्रथम भाव में होगा। ये गोचर शारीरिक रूप से आपको नुकसान पहुंचा सकता है खासकर कि सिरदर्द, बुखार, आंख सबंधी समस्याएं और अपच जैसी परेशानियां हो सकती हैं। कार्य करते वक्त आप आलस का शिकार बन सकते हैं जिसकी वजह से आपका काफी सारा काम बच जाएगा और इसे बाद में पूरा करने में कई दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा। तनाव और अहंकार से बचें ये आपके जीवन को बर्बाद कर सकता है।


उपाय

रविवार के दिन गुड़ का दान करें


तुला

द्वादश भाव में सूर्य गोचर करेगा जिसकी वजह से आपको घर से दूर रहना पड़ेगा। कहीं घूमने जाने की योजना बना सकते हैं। मानहानि के योग बन रहे हैं अत: अनुचित कार्यों को करने से बचें। अपनी सेहत के साथ बिल्कुल भी खिलवाड़ ना करें नहीं तो छोटी सी गलती भी बड़ी समस्या पैदा कर सकती है। दोस्तों के साथ किसी बात को लेकर मनमुटाव की स्थिति बन सकती है।


उपाय

हरिवंश पुराण का पाठ कष्ट हर लेगा, प्रतिदिन इसका पाठ करें


वृश्चिक

सूर्य आपकी राशि से एकादश भाव में संचरण करेगा। इस राशि के लिए ये गोचर अत्यधिक फलदायी साबित होगा। सूर्य के शुभ प्रभाव के कारण आपको धन प्राप्ति के योग बन रहे है। ये गोचर आपको मालामाल बनाने वाला है। नौकरीपेशा लोगों के लिए इस समय पद्दोन्नति के अवसर बन रहे हैं। करियर के लिहाज से ये समय गोल्डन पीरियड साबित होने वाला है।


उपाय

तांबे के पात्र में जल लेकर उसमें सिंदूर और लाल पुष्प डालें फिर इस जाल को सूर्य देवता को अपर्ण करें।


धनु

धनु राशि के दशम भाव में सूर्य स्थित होगा। आपके लिए ये गोचर सकारात्मक प्रभाव लेकर आएगा। आय में वृद्धि हो सकती है। ये गोचर इस राशि के लोगों की किस्मत चमका देगा। सरकार की ओर से भी लाभ मिलने के संकेत बन रहे हैं। आर्थिक और स्वास्थ्य की दृष्टि से ये गोचर शुभ संकेत लेकर आया है। आप जो भी कार्य करेंगे उसमें सफलता मिलने के योग बन रहे हैं।


उपाय

तांबे के पात्र से प्रतिदिन सूर्य देवता को जल अपर्ण करें।


मकर

इस राशि से नवम भाव में सूर्य गोचर करेगा, इस अवधि में आपको उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ सकता है, पैसों की लेनदेन में सावधानी बरतें अन्यथा आपको धन हानि हो सकती है। पिताजी के साथ किसी बात को लेकर मतभेद हो सकते हैं। आपकी सेहत कमजोर बनी रह सकती है इसलिए स्वास्थ्य का खयाल रखें। मानसिक तनाव को खुद पर हावी होने से रोकें अन्यथा स्थिति बिगड़ सकती है।


उपाय

रविवार के दिन तांबे के बर्तन में किसी जरूरतमंद को दान दें।


कुंभ

सूर्य इस राशि से अष्टम भाव में गोचर करेगा। किसी कारण आपको विवाद का सामना करना पड़ सकता है इसलिए इस परिस्थिति से बचें। ऐसा कोई काम ना करें जिससे विवाद खड़ा होने की आशंका हो। शत्रुओं से आपका सामना हो सकता है। यदि आप अपने शत्रु को हराना चाहते हैं तो सिर्फ बल ही नहीं बुद्धि का भी प्रयोग करें। अचानक आए खर्चों की वजह से परेशानी उठानी पड़ सकती है।


उपाय

रविवार के दिन बैलों को गुड़ खिलाएं


मीन

सूर्य इस राशि से सप्तम भाव में विचरण करेगा। इस गोचर के बाद आपके जीवन में कुछ बदलाव आएंगे खासकर कि आपके वैवाहिक संबंधों पर। जीवनसाथी से मतभेद होने के संकेत हैं। व्यापार में आपके साथी के साथ आपके संबंध बिगड़ सकते हैं इसलिए अपनी वाणी पर संयम रखें। यदि आप नौकरीपेशा हैं तो कोई शुभ समाचार प्राप्त हो सकता है। यात्रा करने की सोच रहे हैं तो सावधानी बरतने की जरूरत है।


उपाय

रविवार को तांबे का बर्तन दान करें।


आपको यह आलेख कैसा लगा, अपनी टिप्पणी हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं
टिप्पणी