language
Hindi

लेख

भारत के महानतम ज्योतिषी
ज्योतिष अंधविश्वास नहीं है, सदियों का विश्वास है, प्रामाणिक विज्ञान और सशक्त शास्त्र है। भारत की महानतम भूमि ने ऐसे दिव्य रत्न प्रदान किए हैं जिनकी मनीषा और विलक्षणता ने समस्त संसार को चौंका दिया है। आज भी उनकी बुद्धिमत्ता और ज्ञान रहस्य का विषय हैं। ज्योतिष भारत की समृद्ध और यशस्वी परंपरा है। समूची ज्योतिष विद्या पर प्रश्न चिन्ह भारतीय संस्कृति पर प्रश्नचिन्ह है। नारद, आर्यभट्ट, वराहमिहिर, पराशर, गर्गाचार्य, लोमश ऋषि, निबंकाचार्य, पृथुयश, कल्याण वर्मा, लल्लाचार्य, भास्कराचार्य (प्रथम), ब्रह्मगुप्त, श्रीधराचार्य, मुंजाल यह सिर्फ नाम नहीं है ज्योतिष शास्त्र में इनका अपना गौरवमयी यशस्वी योगदान रहा है।
/ प्रस्तुति : ऐस्ट्रोस्पीक टीम
फरवरी 2018 राशिफल: इन चार की किस्मत में है भारी धनलाभ
फरवरी का महीना प्रेम का महीना कहा जाता है। कम से कम प्रेमी जोड़ों के लिए यह बहुत खास होता ही है क्योंकि माह की शुरुआत होते ही कभी चॉकलेट डे तो कभी रोज डे, कभी प्रपोज डे और फाइनली फिर वैलेंटाइन डे। साथ ही साथ नौकरीपेशा लोगों के साथ-साथ विद्यार्थियों के लिए भी यह महीना कुछ अलग ही महत्व रखता है, दो दिन कम होने की वजह से पढ़ाई भी दो दिन कम और ऑफिस का काम भी।
Horoscope
/ प्रस्तुति : ऐस्ट्रोस्पीक टीम
विवाह पश्चात अनैतिक रिश्ता क्यों? ज्योतिष परिचर्चा
विवाह एक सामाजिक और नैतिक ज़िम्मेदारी है, जिसमें परस्पर दो इंसान ही नहीं वरन् दो परिवारों सहित एक बड़ा जन समुदाय शामिल होता है। ऐसे में शादी शुदा जोड़े से ये अपेक्षा की जाती है कि वे दोनों एक-दूसरे की भावनाओं का सम्मान करेंगे और जीवन भर एक-दूसरे के लिए वफादार रहेंगे। किंतु समस्या तब होती है जबकि दोनों में से कोई एक अथवा दोनों ही अपने रिश्ते से बाहर जाकर शारीरिक या फिर भावनात्मक संबंध स्थापित करने में रुचि लेने लगते हैं। कई बार ऐसे रिश्ते दाम्पत्य में भारी कड़वाहट घोलने का काम करते हैं और विवाहित युगल कोआइए जानते हैं अनैतिक संबंधों की ग्रहीय-नक्षत्रीय व्याख्या क्या है:
/ प्रस्तुति : ऐस्ट्रोस्पीक टीम
साप्ताहिक राशिफल: 19 फरवरी से 25 फरवरी 2018
इस सप्ताह आप अपने पिता के स्वास्थ्य को लेकर थोड़ा चिंतित रह सकते हैं। यह भी मुमकिन है आपको किसी लंबी दूरी की यात्रा पर जाना पड़े। आपको कार्य क्षेत्र पर अधिक ध्यान देने की आवश्यकता है, थोड़ी भी जल्दबाजी नुकसान पहुंचा सकती है। सप्ताहांत में अच्छी आमदनी के योग बन रहे हैं।
/ प्रस्तुति : पंकज खन्ना
भगवान शिव के पंचाक्षरी व षडाक्षरी मन्त्र के अर्थ और उनके लाभ
जिस प्रकार सभी देवताओं में देवाधिदेव महादेव सर्वश्रेष्ठ हैं, उसी प्रकार भगवान शिव का पंचाक्षर मन्त्र ‘नमः शिवाय’ श्रेष्ठ है। इसी मन्त्र के आदि मंग प्रणव अर्थात ॐ लगा देने पर यह षडाक्षर मन्त्र ‘ॐ नम: शिवाय’ हो जाता है। वेद अथवा शिवागम में षडाक्षर मन्त्र स्थित है, किन्तु संसार में पंचाक्षर मन्त्र को मुख्य माना गया है।
Education
/ प्रस्तुति : ऐस्ट्रोस्पीक टीम
कैसा प्रभाव डालेगा शनि-चंद्र की युति से बना विष योग?
शनि और चंद्रमा का संयोग जातक के लिए बेहद कष्टकारी माना जाता है। शनि अपनी धीमी प्रकृति के लिए बदनाम है और चंद्रमा अपनी द्रुत गति के लिए विख्यात। किंतु शनि क्षमताशील होने की वजह अक्सर चंद्रमा को प्रताड़ित करता है। यदि चंद्र और शनि की युति कुंडली के किसी भी भाव में हो, तो ऐसे में उनकी आपस में दशा-अंतर्दशा के दौरान विकट फल मिलने की संभावना बलवती होती है। शनि धीमी गति, लंगड़ापन, शूद्रत्व, सेवक, चाकरी, पुराने घर, खपरैल, बंधन, कारावास, आयु, जीर्ण-शीर्ण अवस्था आदि का कारक ग्रह है जबकि चंद्रमा माता, स्त्री, तरल पदार्थ, सुख, सुख के साथ, कोमलता, मोती, सम्मान, यश आदि का कारकत्व रखता है।
/ प्रस्तुति : ऐस्ट्रोस्पीक टीम
साप्ताहिक राशिफल: किसी नए संबंध का आगमन मुमकिन
साप्ताहिक राशिफल: किसी नए संबंध का आगमन मुमकिन
Detailed life prediction
/ प्रस्तुति : ऐस्ट्रोस्पीक टीम
आरंभ हुआ मलमास, किसी भी मांगलिक कार्य के लिए अशुभ है ये समय
ज्योतिषशास्त्र के अनुसार सूर्य हर 30 दिन यानि एक महीने बाद राशि परिवर्तन करता है। 12 महीनों में यह 12 राशियों पर विचरण करता है और जब यह धनु और मीन राशि पर जाता है, तब उन महीनों को मलमास कहा जाता है।
Planets
/ प्रस्तुति : ऐस्ट्रोस्पीक टीम
साप्ताहिक राशिफल: परिवार में आएगी कोई बड़ी खुशी
नई जिम्मेदारियों के कारण आप अपने ऊपर दबाव महसूस कर सकते हैं। सप्ताह के मध्य दिनों में आपके खर्चों में बढ़ोतरी हो सकती है। सप्ताह के आखिरी दिनों में आप अपने काम को लेकर बहुत भागदौड़ करने जा रहे हैं।
/ प्रस्तुति : ऐस्ट्रोस्पीक लेख
नवरात्रि के नौ दिनों में करवाएं अपने निमित्त विशेष अनुष्ठान और पाएं आदि शक्ति का आशीर्वाद
नवरात्रि के नौ दिनों में करवाएं अपने निमित्त विशेष अनुष्ठान और पाएं आदि शक्ति का आशीर्वाद
Rituals and Puja
/ प्रस्तुति : ऐस्ट्रोस्पीक टीम
14 फरवरी 2018 राशिफल (Daily Horoscope)
जहां तक परिवार की बात है यह समय उस लिहाज से काफी शुभ साबित होगा। इस दौरान आप बच्चों के साथ कहीं घूमने का प्लान भी बना सकते हैं। आपके भाई-बहनों के भी तरक्की करने के अवसर दिखाई दे रहे हैं। प्रेमी के साथ किसी रोचक स्थल की सैर पर आप निकल सकते हैं।
/ प्रस्तुति : पंकज खन्ना
अप्रैल महीने में पैदा हुए लोग होते हैं ऐसे
अप्रैल में जन्में लोग खेल में महान रुचि रखते हैं। यहां तक कि खेल शब्द के शाब्दिक अर्थ में ही उनका जीवन चलता है। वो हर समय नए अवसर की तलाश और नए तरीके का प्रयोग करना चाहते हैं।
/ प्रस्तुति : ऐस्ट्रोस्पीक टीम
बुध का धनु में गोचर इन राशियों के लिए होगा परम शुभ
बुध ग्रह का साल 2018 में 6 जनवरी को गोचर होने जा रहा है। यह वो समय होगा जब बुध ग्रह वृश्चिक राशि से धनु राशि में प्रवेश करेंगे। जाहिर तौर पर इसका सीधा प्रभाव धनु के साथ-साथ वृश्चिक राशि के जातकों पर भी देखा जाएगा। लेकिन यह बात भी स्पष्ट है कि अन्य 10 राशियां भी इस गोचर के प्रभाव से बच नहीं पाएंगी। आइए जानते हैं राशि अनुसार ये गोचर आपके ऊपर क्या प्रभाव डालेगा।
/ प्रस्तुति : ऐस्ट्रोस्पीक टीम
साप्ताहिक राशिफल: लापरवाही करने से आपकी परेशानी बढ़ सकती है
आपको अपनी मेहनत के अच्छे नतीजे भी मिलेंगे। बिजनेस करने वाले लोगों को इनकम बढ़ाने के मौके मिल सकते हैं। साथ काम करने वाले लोगों से मदद मिलेगी।
Detailed life prediction
/ प्रस्तुति : ऐस्ट्रोस्पीक टीम
मानसिक पीड़ा और पागलपन को जन्म देता है पीड़ित चंद्रमा
मन के कारक चंद्र से पूरा का पूरा व्यक्तित्व निर्मित होता है। मुख्य रूप से लग्न कुण्डली में लग्न और तृतीय भाव के स्वामी इंसानी चरित्र और व्यवहार के लिए ज़िम्मेदार होते हैं किंतु चंद्रमा जो कि चतुर्थ भाव का स्वामी ग्रह है, उससे मन की दृढ़ता या उसकी कमज़ोरी निश्चित होती है। यहां आज हम मन के स्वामी ग्रह चंद्रमा का व्यक्तित्व पर पड़ने वाले प्रभाव की चर्चा करेंगे।
Health
/ प्रस्तुति : ऐस्ट्रोस्पीक टीम
ज्योतिष शास्त्र: शेयर मार्केट में कब और कैसे मिलेगा लाभ
धरती पर रहने वाला हर इंसान सहूलियत और सुविधा की जिंदगी जीना चाहता है। इसके लिए कोई भी जोड़-तोड़ करनी पड़े वो करने की कोशिश करता है। धन और वो भी बिना अधिक मेहनत के मिल जाए, हममें से ज्यादातर लोग ऐसा ही सोचते हैं। कुछ जॉब के साथ ही साथ कोई व्यवसाय करके अपनी आय बढ़ाने की कोशिश करते हैं तो कुछ अचानक करोड़पति बनने का सपना संजोए शेयर, लॉटरी और सट्टे का सहारा लेते हैं। किंतु शेयर, लॉटरी और सट्टे के माध्यम से केवल कुछ ही अपने ख्वाबों को पूरा कर पाने में सफल होते हैं बाकी तो अपनी जमा पूंजी डुबा कर अपनी किस्मत को कोसते नज़र आते हैं। ध्यान रहे कि शेयर, सट्टा, लॉटरी जैसे आय के साधन काफी हद तक व्यक्ति की किस्मत पर निर्भर करते हैं।
/ प्रस्तुति : ऐस्ट्रोस्पीक टीम
साप्ताहिक राशिफल: खर्चा करने से पहले एक बार अवश्य सोचें
इस सप्ताह कोई गैजेट खरीद सकते हैं, जिसमें उनका काफी पैसा लगेगा। प्रोफेशनल लाइफ भी अच्छी रहेगी, जो लोग पढ़ाई कर रहे हैं उनके लिए अच्छा समय है, व्यवसाय में धन कमाने का नया तरीका
Detailed life prediction
/ प्रस्तुति : ऐस्ट्रोस्पीक टीम
साप्ताहिक राशिफल: धन संबंधी परेशानियां हो सकती हैं
घरेलू जीवन में तालमेल की कमी नहीं रहेगी। पहले से ही बनी योजना इस सप्ताह लागू कर दीजिए, सफलता अवश्य मिलेगी।
Detailed life prediction
/ प्रस्तुति : ऐस्ट्रोस्पीक टीम
कालसर्प योग: जानिए क्या है हकीकत
ज्योतिष में आजकल कालसर्प दोष को लेकर बेहद भ्रम की स्थिति है। कालसर्प दोष क्या है, जिसका इतना डर फ़ैला है कि आम जनता अपना बहुत सारा धन इस दोष को मिटाने के लिए खर्च करने को तैयार हो जाती है।
/ प्रस्तुति : ऐस्ट्रोस्पीक टीम
हाथों की ये रेखा दिलवाती है प्रेम में धोखा
हस्तरेखाशास्त्र के अनुसार अगर कोई रेखा अंगुठे के साथ वाली अंगुली से निकलते हुए शनि और सूर्य पर्वतों को घेरती हुई अनामिका और कनिष्टा अंगुली के बीच समाप्त होती है तो इसे शुक्र वलय योग का नाम दिया जाता है।
Relationship
/ प्रस्तुति : ऐस्ट्रोस्पीक लेख