language
Hindi

प्रश्नावली: तुरंत जवाब पाएं

रामचरित मानस प्रश्नावली या श्री रामशलाका प्रश्नावली

रामचरित मानस प्रश्नावली या रामशलाका प्रश्नावली के जवाब तुलसीदास रचित रामायण या रामचरित मानस की चौपाइयों पर आधारित हैं। रामायण प्रश्नावली का प्रयोग आपके सवालों का जवाब देने के लिए किया जाता है। अगर आप किसी दुविधा में हैं, अपने संदेह को दूर करना चाहते हैं या जीवन के लिए सही दिशा का चुनाव चाहते हैं तो ऐसी स्थिति में यह आपकी सहायता कर सकते हैं। वैदिक काल से ही इस विधा का प्रयोग किया जाता रहा है।

ये कैसे काम करता है:

अब आप रामचरित मानस प्रश्नावली का प्रयोग करने के लिए तैयार हैं। इस प्रयोग से मात्र 3 आसान चरणों में अपने सवाल या समस्या का जवाब पाने के लिए तैयार रहें:
एक निश्चित प्रश्न पर विचार करें
ईश्वर का ध्यान करें, प्रार्थना करें
इमेज पर किल्क करें
Prashnavali
  • रामायण प्रश्नावली 15x15 की हिन्दी वर्णमाला की कड़ी है
  • इस कड़ी के प्रत्येक खांचे में रामचरित मानस की नौ चौपाइयों का एक-एक अक्षर लिखा है।
  • जो व्यक्ति अपनी समस्या का समाधान चाहता है उसे भगवान श्रीराम का ध्यान करते हुए बंद आंखों से एक खांचे पर अंगुली रखनी होती है। आपके द्वारा चुने गए अक्षर से प्रत्येक 9वें अक्षर को जोड़ते जाइए।
  • इन अक्षरों को जोड़ कर रामचरित मानस की एक चौपाई बनेगी।
  • इस चौपाई में ही आपके संबंधित सवाल या समस्या का हल छिपा है।

रामचरितमानस प्रश्नावली का प्रयोग करते समय ध्यान रखने योग्य बातें:

  • अपने दिमाग से सभी नकारात्मक विचार हटा दें
  • एक समय पर एक ही सवाल करें
  • प्रश्न करने से पहले भगवान राम का ध्यान करें
  • आप उन्हीं सवालों को करें जो आपके लिए बहुत जरूरी हों या जो आपके जीवन से संबंध रखते हों
  • बेकार के सवाल ना करें
  • प्रश्नावली के जरिए आप अपने लिए सही मार्ग को पहचान सकते हैं
  • अगर आपका प्रश्नावली पर पूरा विश्वास और आस्था हो तभी इसका उपयोग करें
  • ऊपर की जाली पर ॐ की आकृत्ति बनी होती है ताकि आप खुली आंखों से अपने लिए शब्द चुनें और आपको यह पता हो कि आपने क्या चुनाव किया है
  • ॐ के पीछे छिपे जिस खांचे पर हाथ रखते हैं उसी में आपके सवाल का जवाब दर्ज है
  • मन बहलाने के लिए कभी इस धार्मिक विधा का प्रयोग ना करें