language
Hindi

कर्क प्रेम राशिफल

एक वाक्य में कर्क राशि वाले - भावनात्मक, संवेदनशील, रक्षात्मक लेकिन मूडी

जन्मजात इच्छा - सुरक्षा

कर्क राशि वाले एक अच्छे प्राणी होते हैं और जब बात प्यार की आती है तो वे बेहद संवेदनशील और वफादार होते हैं। वे प्यार में बहुत सहज होते हैं और ऐसे व्यक्ति को अपना साथी बनाना चाहते हैं जो उन्हें गहराई से समझ सके। चूंकि कर्क राशि वाले जमीन से बहुत जमीन से जुड़े होते हैं, इसलिए वे किसी ऐसे व्यक्ति को नहीं पसंद करते हैं जो बहुत ज्यादा महत्वाकांक्षी हो। हालांकि वे कड़ी मेहनत और नवीन खोज की प्रशंसा करते हैं। वे सहज ज्ञानी होते हैं और इसीलिए वे ऐसे व्यक्ति को पसंद करते हैं, जिनमें ये गुण हो।
हमारे विशेषज्ञों के पास जीवन की हर समस्या का समाधान मौजूद है। आप अपना सवाल कर हमारे प्रतिष्ठित ज्योतिषाचार्यों से उपाय प्राप्त कर सकते हैं।

कर्क राशि - प्रेम एवं संबंध

किसी की देखभाल करने व सहानुभूति जताने के गुणों से पहचाने जाने वाले कर्क राशि के जातक लंबे समय के लिए की गई प्रतिबद्धता पर विश्वास करते हैं। यदि वे एक बार किसी से रिश्ता जोड़ लेते हैं तो वह उनके लिए उनकी पूरी दुनिया बन जाता है। ये बहुत आकर्षक, संवेदनशील, रोमांटिक और कल्पनाशील, सुरक्षात्मक एवं मस्खरे होते हैं। वे अपने साथी से पूरी तरह से भावनात्मक वफादारी और नजदीकी चाहते हैं। ज्यादा संवेदनशील और नर्म दिल वाले होने से उन्हें विकास के लिए सुरक्षा की जरूरत होती है। कर्क राशि वालों के लिए जीवन बिना रोमांस के उदासीन होता है। वे प्यार में वफादार, समझदार और आकर्षक होते हैं। लेकिन कभी-कभी वे अपने पार्टनर के सामने अपनी वफादारी और समझ को सही से व्यक्त नहीं कर पाते हैं। यदि एक बार किसी ने इन्हें मना कर दिया या इनकी हरकत पर किसी ने ध्यान नहीं दिया तो वे खुद को अपमानित और अस्वीकृत समझते हैं। वे इस भाव से अपने साथी को आश्चर्य में डालकर वहां से चले जाते हैं। जब वे अस्वीकृत होते हैं और कोई उनपर ध्यान नहीं देता तब वे जिद्दी और दृढ़ निश्चयीय हो जाते हैं। उनकी इस जिद को कम करने के लिए दिल से मांगी गई माफी की जरूरत होती है। वे अपने बदलते स्वभाव के चलते तब तक हार नहीं मानते जबतक उनका पार्टनर कुछ ऐसा भयंकर न कर दे जो वे सहन न कर सकें। कर्क राशि वाले वित्तीय प्रबंधन में बेहतर होते हैं। जिससे वे एक बेहतर भौतिकवादी जीवन जीते हैं।
कर्क राशि वाले माता-पिता के रूप में
कर्क राशि वाले बहुत केयरिंग माता-पिता होते हैं। जिनका उद्देश्य बच्चों को घर का प्यारभरा वातावरण देना होता है। वे शायद ही अपने बच्चों को दर्द या चोट में देख सकते हैं। वे अपने बच्चे के लिए हर संभव मदद करना चाहते हैं। कर्क राशि वालों के लिए उनका परिवार सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण होता है।
कर्क राशि वाले बच्चे
जो बच्चे कर्क राशि के तहत जन्म लेते हैं, उन्हें नियमित प्रेम, स्नेह, सीखने के लिए एक स्थिर सुरक्षात्मक वातावरण और पोषण की जरूरत होती है। वे अपने चहेतों के लिए बहुत ख्याल रखने वाले होते हैं। उन्हें अपने स्तर को बेहतर करने के लिए बहुत ज्यादा प्रोत्साहन की आवश्यकता होती है।
कर्क के साथ संबंध रखने वाले विविध राशि
कर्क और मेष का रिश्ता
दो मूडी लोगों का संयोजन एक कठिन काम है। उन दोनों के बीच लड़ाई और झगड़ा एक आग की तरह भड़कता है फिर धीरे-धीरे ये बढ़ जाता है। शुरू होते हैं और धीरे धीरे स्थिर हो जाते हैं। मेष जातक के कटु वचन से कभी-कभी कर्क राशि वालों को बहुत चोट पहंुचाती है। कर्क राशि के जातकों की संवेदनशीलता और गोपनीय प्रकृति मेष के खुलेपन के साथ मुठभेड़ कर सकती है। अच्छा संचार उनके रिश्ते में बदलाव ला सकता है।
कर्क और वृषभ का रिश्ता
पृथ्वी और जल तत्व मिलकर एक अद्भुत संयोजन करते हैं। दोनों एक-दूसरे पर निर्भर होते हैं। वे दोनों भावनात्मक होते हैं और एक-दूसरे से गहराई के साथ जुड़े होते हैं। वृषभ अक्सर कर्क जातक के मूड से प्रभावित होता है, लेकिन उनमें से किसी एक की कभी भी की गई लापरवाही इनके रिश्ते पर असर डाल सकती है। फिर भी समान रुचियां, व्यवहार, गृह प्रेम, सामाजिक रवैया, महत्वकांक्षा और शक्ति इन्हें एक सफल जोड़ी बनाती है।
कर्क और मिथुन का रिश्ता
यह मुश्किल मिलान है, क्योंकि दोनों एक दूसरे के काफी विपरीत है। क्योंकि गृह प्रेम करने वाले कर्क राशि वालों को क्लब पसंद मिथुन राशि वालों के साथ व्यवस्थित करना मुश्किल होता है। उसी वक्त कर्क राशि वालों का मूडीपन मिथुन जातकों के साथ समायोजन में दिक्कतें पैदा करता है। कर्क राशि वाले चीजों उनके वास्तविक स्थिति में स्वीकार करता है वहीं, मिथुन वाले इसे बदलना चाहते हैं। ये रिश्ता तब ही काम कर सकता हैं, जब दोनों एक-दूसरे को वैसे ही स्वीकार करें जैसे वे हकीकत में हैं और समय के साथ खुद में थोड़ा बदलाव करें।
कर्क और कर्क का रिश्ता
दोनों अपनी छवि के अनुरूप हैं इसलिए उनका रिश्ता भी स्थिर ओर सफल होता है। दोनों में बहुत कुछ समान होता है और यही चीज दोनों को एक-दूसरे को अच्छे से समझने में मदद करती है। बहुत संवेदनशील, डिमांडिंग और बहुत निर्भर होना, ये कुछ खास गुण जो दोनों लोगों में होता है। उनके बीच प्रेम बहुत मजबूत होता है क्योंकि वे एक दूसरे की जरूरतों, मूड और इच्छाओं को अच्छे से समझते हैं।
कर्क और सिंह का रिश्ता
इनका रिश्ता सफल और बहुत संतुलित होता है, क्योंकि दोनों एक दूसरे के सकारात्मक गुणों की सराहना करते हैं। कर्क राशि वाले सिंह जातक को गर्व महसूस कराकर उन्हें खुश करना चाहते हैं इसलिए वे उनकी तारीफ करते हैं। वहीं बदले में सिंह राशि के लोग भी कर्क राशि वालों को मजबूत भावनात्मक समर्थन देते हैं। कर्क जातक बहुमुखी और खुले दिल के होने से अक्सर सिंह राशि वालों के साथ समायोजन कर लेते हैं।
कर्क और कन्या का रिश्ता
इस जोड़े के बीच प्रेमपूर्ण और आरामदायक संबंध होते हैं, लेकिन कभी-कभी संचार दोनों के बीच एक समस्या के रूप में खड़ा हो जाता है। कर्क राशि वाले शर्मीले, भावुक और रहस्यात्मक होते हैं। जबकि कन्या राशि के लोग बहुमुखी स्वभाव, मस्तीखोर और विश्लेषणात्मक होते हैं। दोनों एक-दूसरे की तारीफ अच्छे से और अपने तरीके से करते हैं। उनका स्वभाव और रवैया आपस में बहुत संतुलित रहते हैं।
कर्क और तुला का रिश्ता
पानी और वायु का संयोजन बहुत कठिन है। ये संबंध को भी मुश्किल बना देता है, क्योंकि दोनों एक-दूसरे से बिल्कुल अलग हैं। तुला जातकों को पार्टी करने के लिए बाहर घूमना पसंद होता है, लेकिन कर्क राशि के लोग घर पर रहना चाहते हैं। कर्क राशि वाले व्यक्ति बहुत ही स्वभाविक होते हैं। कर्क राशि वाले तुला राशि के लोगों के विचारशील होने व प्रेमपूर्ण प्रकृति की सराहना करते हैं। वहीं तुला राशि वाले कर्क राशि के जातकों की वफादारी की प्रशंसा करते हैं।
कर्क और वृश्चिक का रिश्ता
ये दोनों अच्छे दोस्त होते हैं। इनका संयोजन एक महान जोड़ी बनाता है। उनके रिश्ते में गहराई होती है। वफादार कर्क राशि के जातक वृश्चिक राशि वाले की शक्ति की सराहना करते हैं। वहीं वृश्चिक कर्क के स्वभाव व दृष्टिकोण से खुद को सुरक्षित महसूस करते हैं। ये दो पानी के संकेत भावनाओं पर शासन कर रहें हैं। ये आदर्श विवाहित जोड़ी बन सकते हैं। वृश्चिक चतुराई से कर्क वालों का दिल जीतते हैं।
कर्क और धनु का रिश्ता
जल और अग्नि तत्व होने से दोनों की प्रकृति और व्यवहार में बहुत अंतर होता है, जिससे उनके रिश्ते के लिए खतरा उत्पन्न हो जाता है। कर्क राशि वालों को धनु राशि से वो सुरक्षा नहीं मिलती, जिसकी उन्होंने मांग की थी। वहीं धनु राशि वालों को ऐसे गृह प्रेमी और अंतर्मुखी वाले कर्क जातक का साथ उन्हें असहज महसूस कराता है। दोनों उदार होते हैं और उनका संबंध केवल मजबूत दृढ़ संकल्प के जरिए ही बेहतर हो सकता है।
कर्क और मकर का रिश्ता
दोनों राशि वाले एक-दूसरे के विपरीत होते हैं। ये एक ही सिक्के के दो पहलुओं की तरह लगते हैं। ये दोनों तभी एक बेहतर संबंध बना सकते हैं जब वे अपने स्वभाव में मौजूद विपरीतता को खत्म करें। दोनों एक-दूसरे से समान चीजों की मांग करते हैं और यह तब ही काम कर सकता है जब कोई दूसरा पूरी तरह से उसे वैसा ही स्वीकार करें, जैसा वो हैं। कर्क राशि के लोग शर्मीले और संवेदनशील होते हैं। जबकि मकर इसके विपरीत और करियर में रुचि रखने वाले होते हैं।
कर्क और कुंभ का रिश्ता
कर्क राशि वाले गर्म स्वभाव, रूढ़िवादी और संवेदनशील होते हैं। कुंभ राशि वाले शांत, सामाजिक और बहुमुखी होते हैं। कर्क राशि वाले कुंभ जातक के द्वारा किए गए हंसमुख व्यंग से भी आसानी से भावनात्मक रूप से चोटिल हो सकते हैं। कर्क वाले कुंभ राशि के साझा करने की आदत से भी परेशान होते हैं। उनके बीच संबंध तभी बन सकता है जब वे अपने बीच के मतभेदों से बाहर निकलें।
कर्क और मीन का रिश्ता
एक युगल जो एक साथ जब बंध जाते हैं तो वे अपने सपनों को हकीकत में बदल सकते हैं। दोनों संवेदनशील, भावनात्मक, स्नेही और गहराई से एक-दूसरे के साथ जुड़े रहते हैं। मजबूत भावना या तो इस संबंध को बहुत सफल बना सकती है या इसे नष्ट कर सकती हे। दोनों रोमांटिक, घर-परिवार और दोस्तों को प्यार करने वाले होते हैं। वे किसी को प्रेम करना चाहते हैं। साथ ही उन्हें भी प्यार की जरूरत होती है। उनके बीच कभी-कभी त्वरित झगड़े हो सकते हैं, लेकिन यह एक बहुत थोड़े समय के लिए होगा।