language
Hindi

कुंभ प्रेम राशिफल

एक वाक्य में कुंभ राशि वाले - दोस्ताना, विलक्षण, ग्लैमरस, लेकिन अप्रत्याशित

जन्मजात इच्छा - जानने की

कुंभ राशि वाले ऐसे किसी व्यक्ति को पसंद करते हैं जो स्मार्ट और बुद्धिमान हो, जिनके साथ वे दिलस्प बातें कर सकें। कुंभ राशि के जातक खुले विचार वाले होते हैं और कभी-कभी यही चीज उनके साथी को बेवजह ठेस पहुंचा सकती है। वे संचार से प्रेम करते हैं और इसलिए संवाद करते रहते हैं। यदि उनका साथी उनके साथ सब कुछ साझा नहीं करता है, तो यह उनके संबंध में एक समस्या हो सकती है। वे ईमानदार और समझदार साझेदार चाहते हैं, जो उनके जैसे ही विविध कल्पनाशील कौशल रखते हो। वे एक वफादार प्रेमी-प्रेमिका होते हैं और वे अपने साथी पर सब कुछ न्यौछावर करना चाहते हैं।
हमारे विशेषज्ञों के पास जीवन की हर समस्या का समाधान मौजूद है। आप अपना सवाल कर हमारे प्रतिष्ठित ज्योतिषाचार्यों से उपाय प्राप्त कर सकते हैं।

कुंभ राशि - प्रेम एवं संबंध

राशि चक्र की बारह राशियों में से एक राशि कुंभ है। ऐसे लोग बहुत ही अप्रत्याशित और स्वतंत्र स्वभाव के होत हैं। कुंभ राशि वाले में संबंधों के प्रति प्रतिबद्धता की कमी होती है। उनके संबंध को बेहतर बनाने के लिए उनमें से किसी एक साथी को इसे आगे ले जाना होगा। ऐसे जातक कभी-कभी ईष्यालू भी होते हैं। वे आत्माओं की समानता पर विश्वास करते हैं। वे व्यक्तित्व को बनाए रखने के लिए उसे प्रोत्साहित करते हैं। यद्यपि वे भावनात्मक न होते हुए भी उनमें बहुत जुनून होता है। कुंभ राशि वाले जन्मतात बुद्धिमान होते हैं। इसलिए वे अपनी ही तरह शिक्षित और बुद्धिमान भागीदारों चाहते हैं। वे स्थायी और मजबूत संलग्नक पसंद करते हैं। वे अपने प्यार को भले ही जता नहीं पाते और इस मामले में निष्क्रिय हो, फिर भी उनके सहयोगी बेहतर महसूस करते हैं। कुंभ राशि वाले मानवीय, दयालु, सहानुभूतिपूर्ण, सामंजस्यपूर्ण और उदार होते हैं। जबकि कुंभ राशि वाले हमेशा जीवंत, सामंजस्यपूर्ण, उच्च उत्साही और हंसमुख होते हैं। उनके पास कई विश्वसनीय, ईमानदार और अच्छे दोस्त होते हैं। वे उन लोगों के साथ अच्छे से तालमेल बिठा सकते हैं जो उनकी तरह सामाजिक, चालाक और पढ़ाकू होते हैं। जब वे प्यार में होते हैं तब इतनी बुरी तरह से चोट खाते हैं कि वहां उनका कोई सहारा नहीं होता। वे अपने साथी को दूसरों से जीवन शैली, विश्वास और दृष्टिकोण में विश्वास, दृष्टिकोण आदि में अलग देखना चाहते हैं। वे चाहते हैं कि उनका साथी उन्हें वो करने दें जो वे करना चाहते हैं। उनके संबंधों में बहुत सारी असहमतियां साथ ही कई सुखद चर्चाएं हो सकती हैं।
कुंभ राशि वाले माता-पिता के रूप में
कुंभ राशि वाले जातक ऐसे अप्रत्याशित माता-पिता होते हैं जो अपने बच्चों की परवरिश प्रचलन के तरीके से करते हैं। वे इस संबंध में किसी भी तरह की नई सहायता, खाने का सामान आदि लेने में कभी भी हिचकिचाते नहीं हैं। वे बच्चे के व्यक्तित्व और बुद्धि के विकास के लिए उन्हें शिक्षा देने का दावा करते हैं। एक सकारात्मक दृष्टि से कुंभ राशि वाले व्यक्ति हमेश व्यक्तित्व का सम्मान करते हैं और अपने बच्चों को आगे बढ़ने के लिए पर्याप्त स्वतंत्रता और अवसर देते हैं।
कुंभ राशि वाले बच्चे
कुंभ राशि के तहत जन्म लेने वाले बच्चे अपने जीवन के शुरुआती दौर में अपने मूड और चाहत के अनुुसार काम करना चाहते हैं। उनके मानसिक सोच का वर्णन करना बहुत मुश्किल है। अक्सर वे ज्ञाने-पहचाने वातावरण में सजह होते हैं और स्थिर स्थिति से लाभान्वित होते हैं। वे एक नियमित शैक्षणिक पद्धति से जुड़कर नहीं रह पाते हैं। वे अपरंपरागत धारा में ज्यादा अच्छा काम कर सकते हैं। ऐसी जगह वे अपने दिमाग एवं हाथो का उपयोग प्रयोगों, खोज और अन्वेषणों में कर सकते हैं।
कुंभ के साथ संबंध रखने वाले विविध राशि
कुंभ और मेष का रिश्ता
उम्दा, प्यारा और एक-दूसरे के लिए बेहतर रहने वाला यह दो दोस्तों का रिश्ता आगे एक खास संबंध बन सकता है। दोनों बहुत सक्रिय, वफादार, महत्वाकांक्षी, मज़ेदार, साहसी और समान हित वाले होत हैं। दोनों हर पहलू में एक-दूसरे को समझने की कोशिश करते हैं और इनमें से कोई भी एक-दूसरे पर हावी नहीं होना चाहते। कभी-कभी कुंभ राशि वाले अपने मूड के अनुसार मेष राशि वालों को एक लीडर बनने की अनुमति देते हैं। मेष राशि वाले लोग खुद को कुंभ राशि वालों के साथ कभी सुरक्षित महसूस नहीं करते हैं।
कुंभ और वृषभ का रिश्ता
वृषभ सुरक्षात्मक और ईर्ष्यापूर्ण होते हैं। वहीं कुंभ राशि वाले लापरवाह और चिंताहीन होते हैं। कुंभ राशि वाले व्यक्ति वृषभ को सुरक्षा प्रदान नहीं कर पाते हैं। कुंभ जातक दूसरों के बारे में सोचते हैं, लेकिन वृषभ आत्म केंद्रित एवं स्वार्थी होते हैं। वृषभ कुंभ राशि के अनियमित दृष्टिकोण की सराहना करते हैं। जबकि कंुभ राशि वाले वृषभ की स्थिरता से दूर चले जाते हैं। उनका संबंध उनकी प्राथमिकताओं पर काम करता है क्योंकि वे एक-दूसरे के बिल्कुल विपरीत होते हैं।
कुंभ और मिथुन का रिश्ता
दोनों राशियों के जातकों में समान रुचि और एक-दूसरे से बातचीत के लिए बुद्धिपूर्ण मस्तिष्क होता है। जो उनके रिश्ते को काफी आकर्षक और स्थिर बनाता है। उन दोनों के बीच एकमात्र समस्या यह है कि उन्हें अच्छे प्रेमी-प्रेमिक के बजाय सबसे बेहतर दोस्त माना जाता है। वे न तो कभी एक-दूसरे से ईष्र्या करते हैं और न ही उनके सोचने का तरीका अलग होता है। दोनों राशियों के व्यक्तियों की पसंद एक ही होती है और दोनों को एक-दूसरे का साथ अच्छा लगता है।
कुंभ और कर्क का रिश्ता
स्वामित्वबोध और संवेदनशील होने के कारण कर्क राशि वाले कुंभ जातकों की स्वतंत्रता छीनकर उन्हें बंधन में बांधने की कोशिश करते हैं। एक कर्क जातक कुंभ राशि के साथी के साथ खुद को अस्वीकृत और असुरक्षित क्षमता है। वहीं कुंभ राशि वाले व्यक्ति घर पर रहना पसंद नहीं करते, उन्हें बाहर घूमना-फिरना पसंद होता है। ये दोनों विपरीत राशि वाले जातक मिलकर एक कठिन रिश्ता बनाते हैं, जो लंगे समय तक नहीं चल सकता।
कुंभ और सिंह का रिश्ता
इन दोनों के रिश्ते की शुरुआत एक जलते हुए आग की तरह होता है, जे धीरे-धीरे शांत हो जाता है। ये राशि चक्र की दो विपरीत राशियां हैं। जहां दोनों राशि के जातक एक-दूसरे की राय को समझ नहीं पाते हैं और न ही उन्हें एक-दूसरे से समर्थन मिलता है। कुंभ जातक बहुत सामाजिक होते हैं जबकि सिंह वाले स्वार्थी और आकर्षक होते हैं।
कुंभ और कन्या का रिश्ता
बौद्धिक रूप से संगत साथी अक्सर एक -दूसरे के लिए मजबूत आकर्षण रखते हैं और उनके संबंध उनके मतभेदों पर काम करते हैं। कन्या निराशावादी, बहुत ही करीबी लोगों के साथ कुशल और सहज हो पाते हैं। जबकि कुंभ राशि के व्यक्ति आशावादी, सामाजिक, शानदार और कल्पनाशील होते हैं। उनके दृष्टिकोण पूरी तरह से भिन्न होते हैं और एक दूसरे के साथ संघर्ष करते हैं।
कुंभ और तुला का रिश्ता
रचनात्मक कार्यों, संगीत, पार्टियों और अन्य पहलुओं पर इन दोनों की सामान्य रुचि होने के कारण इनका रिश्ता और भी ज्यादा रोमांचक और मज़ेदार बन जाता है। वे एक दूसरे को अच्छी तरह से संभालना जानते हैं, उनके बीच कोई कुतर्क जगह नहीं ले सकता। उनके रिश्ते में स्थिरता की तभी गुंजाइश होती है जब आने वाले कुछ सालों में कोई परेशानी सामने आए।
कुंभ और वृश्चिक का रिश्ता
इन दोनों के बीच कई ज्योतिषीय कारकों के समान होने से ये एक बेहतर रिश्ता बनाते हैं जिसमें सफलता और लाभ दोनों मिलते हैं। वृश्चिक राशि वाले व्यक्ति कुंभ की तरह मूडी नहीं होते। वे भावुक और सुरक्षात्मक होते हैं। कुंभ राशि वाले पत्थर दिल होते हैं। वृश्चिक राशि वालों की भावुकता की गहराई और कुंभ राशि के जातकों की बौद्धिकता के लिए दोनों एक-दूसरे की सराहना करते हैं। ये उनके रिश्ते का सबसे मजबूत बिंदु माना जाता है।
कुंभ और धनु का रिश्ता
चूंकि दोनों सामाजिक और प्यारे प्राणी होते हैं इसलिए दोनों के बीच उम्दा संबंध के बेहतर अवसर होते हैं। वे न तो एक-दूसरे के प्रति ईष्र्या रखते हैं और न ही कभी अपने संबंध में कोई पाबंदी लगाते हैं। वे एक-दूसरे की बौद्धिकता से प्रेरित होते हैं और उसी के अनुरूप प्रतिबद्ध होते हैं। कुंभ राशिा वाले खोजी प्रवृति के एवं धनु राशि वाले दृष्टिकोणात्मक होते हैंं। अच्छा तालमेल और प्रोत्साहन ये दो चीजे दोनों राशि वाले एक-दूसरे से हमेशा चाहते हैं।
कुंभ और मकर का रिश्ता
दोनों के बीच व्यक्तित्व और सिद्धांतों में बहुत अंतर होता है, जिसका मेल बहुत ही कठिन है। कुंभ जातकों को प्रभावशाली मकर राशि की ओर से प्रतिबंध लगाना बिल्कुल पसंद नही है। कुंभ राशि वाले खर्चीले स्वभाव के होते हैं, जबकि मकर राशि वालों को ज्यादा खर्च करना पसंद नहीं होता। सीधा दृष्टिकोण रखने वाले मकर जातकों को जल तत्व वाले कुंभ राशि के व्यक्तियों की साहसी एवं रोचक विचार समझ नहीं आते हैं। कुंभ जातक आत्म-केंद्रित होते हैं, मकर वालों को कुंभ की यही उदारता अच्छी नहीं लगती।
कुंभ और कुंभ का रिश्ता
इन दोनों को एक-दूसरे का सर्वश्रेष्ठ साथी माना गया है। चूंकि दोनों की रुचियां एक हैं, दोनों में अच्छा तालमेल है और वे एक-दूसरे के मजाकिया सेंस का लुत्फ उठाते हैं, इसलिए वे एक-दूसरे के अच्छे जीवनसाथी बन सकते हैं। वे शायद ही कभी झगड़ते हैं, ये लड़ाई केवल उनके बीच कुछ असमझौते के कारण हो सकता है, वरना उनके बीच सब सही रहता है।
कुंभ और मीन का रिश्ता
इन दोनों राशि वाले व्यक्तियों के बीच अपरंपरागत संबंध होते हैं, क्योंकि दोनों ही राशि वाले जातक अलग-अलग तर्क संगत से चलते हैं। मीन एक स्वप्नदर्शी है और ये कुंभ राशि वाले के विचारों के प्रति झुकाव रखता है। मीन राशि वाले अपने कुंभ साथी से सहानुभूति और अच्दे तालमेल की इच्छा रखता है।