language
Hindi

मकर प्रेम राशिफल

एक वाक्य में मकर राशि वाले - स्पष्ट, अकेले रहते हुए बेहतरीन नेतृत्व

जन्मजात इच्छा - लाभ पाना

मकर राशि प्यार के मामलों को बहुत गंभीरता से लेते हैं। बेशक प्यार में यह धीमी शुरुआत करें लेकिन एक बार निश्चित होने के बाद यह पीछे मुड़कर नहीं देखते। मकर राशि के जातक शब्दों से अधिक कर्म में विश्वास रखते हैं। अगर आपके प्रेमी की राशि मकर है और उनके लिए आपने कुछ अच्छा किया है तो वह आपको उचित समय आने पर इसका अच्छा रिटर्न गिफ्ट भी देते हैं।
हमारे विशेषज्ञों के पास जीवन की हर समस्या का समाधान मौजूद है। आप अपना सवाल कर हमारे प्रतिष्ठित ज्योतिषाचार्यों से उपाय प्राप्त कर सकते हैं।

मकर राशि - प्रेम एवं संबंध

मकर राशि के अंतर्गत जन्में जातक अत्यधिक भरोसे और स्नेह के लिए जाने जाते हैं। यह अधिक इमोशनल नहीं होते, साथ ही विपरीत लिंग के साथी के करीब जाने में काफी सतर्कता और समय लगाते हैं। प्यार के मामले में इनका धीमापन अक्सर इनके साथी को परेशान कर देता है। यह साथी को चुनने के लिए एक लंबा समय लेते हैं। यह प्यार के मामले में धीमे होते हैं और आगे बढ़ने से पहले कई बार सोच-विचार करते हैं, ये लोग विश्वसनीय और ईमानदार भी होते हैं। इन्हें परंपराओं का पालन करना पसंद है, प्यार इनके लिए कोई एक या दो दिन चलने वाली चीज नहीं है और अपने जीवन में ये हमेशा घर और परिवार को प्रधानता देते हैं। मकर राशि के जातक एक समझदार और मेच्यौर साथी की तलाश करते हैं। बेशक यह काफी सीरियस रहते हैं लेकिन अपने रिश्ते में ह्यूमर बनाए रखते हैं। यह अपने साथी के साथ क्वालिटी समय व्यतीत करना पसंद करते हैं। प्यार का बेहद ख्याल रखने वाले ये लोग यह जियो और जीने दो के सिद्धांत पर जीवन जीते हैं। प्यार में असफल होना इनके आत्म-सम्मान और विश्वास को गहरी ठेस पहुंचाता है।
मकर राशि वाले माता-पिता के रूप में
मकर राशि के अभिभावक गंभीर प्रवृत्ति के होते है और अपने बच्चों का सख्त नियमों के साथ पालन करते हैं। यह अपने बच्चों को हमेशा ठीक व्यवहार करना, अनुशासन में रहना, जिम्मेदारी से कार्य करना और संवेदनशीलता का पाठ पढ़ाते हैं। यह अक्सर अपने बच्चे की उपलब्धियों के महत्व का आंकलन करते हैं।
मकर राशि वाले बच्चे
मकर राशि के बच्चे अपनी उम्र की तुलना में अधिक परिपक्वता से बात और सोच-विचार करते हैं। इनका जीवन बेहद व्यवस्तीत रहता है और यह हर कार्य को समय पर करना पसंद करते हैं। यह परंपरागत माहौल में अच्छी तरह प्रगति करते हैं जहां प्रतिस्पर्धा और चुनौतियां इनको बेहतर बनाने में मदद करती है।
मकर के साथ संबंध रखने वाले विविध राशि
मकर और मेष का रिश्ता
जिद्दी, आवेगी और आक्रामक- मकर और मेष राशि के मेल का सारांश यही है। इनके बीच यही एक अंतर है कि मेष राशि के जातक किसी भी कार्य को करने में जल्दबाजी दिखाते हैं बल्कि मकर राशि के जातक हर कार्य सोच-समझकर करते हैं। इनके बीच अक्सर झगड़े का माहौल रहता है अगर यह अपने रिश्ते को लड़ाई-झगड़े से बचा पाते हैं तो इनका रिश्ता काफी लंबा चलता है। इनके बीच के रिश्ते की कामयाबी के लिए मकर राशि के जातक को मेष राशि के साथी को पाबंदियों में नहीं बांधना चाहिए।
मकर और वृषभ का रिश्ता
मकर और वृषभ राशि के जातको के बीच बेहद मजबूत रिश्ता होता है। यह दोनों एक दूसरे को काफी अच्छी तरह से समझते हैं और दूसरों की भावनाओं की कद्र करते हैं। यह एक-दूसरे को हर स्तर पर सहयोग देने के लिए तैयार रहते हैं।
मकर और मिथुन का रिश्ता
मिथुन राशि के जातक को स्थिरता की आवश्यकता होती और मकर राशि के जातक को चीजों को थोड़ा हल्के में लेने पसंद है। दोनों ही एक –दूसरे की कमियों को पूरा कर सकते हैं लेकिन अपनी सुव्यवस्थित दुनिया में रहने वाले मकर राशि के जातको को मिथुन राशि का अव्यवस्थित जीवन काफी परेशान करता है।
मकर और कर्क का रिश्ता
कर्क राशि के जातक जब परेशान होते हैं तो किसी से बात करना पसंद नहीं करते। मकर राशि के जातको की प्रैक्टिकल जीवन में कर्क राशि का ख्वाबी प्यार कल्पना ही रहता है।
मकर और सिंह का रिश्ता
इन दोनों राशियों के बीच प्यार केवल समझौते और आपसी सूझबूझ पर ही निर्भर करता है। सिंह राशि के जातक पैसे और पावर का शो-ऑफ करना पसंद करते हैं तो वहीं मकर राशि के जातक पैसों का सम्मान करते हैं और सही स्थान पर ही खर्च करते हैं। थोड़ी-सी सूझबूझ इन दोनों के रिश्तों को बनाने में मदद करती है।
मकर और कन्या का रिश्ता
दोनों ही राशि के जातक अपने काम और परिवार से बहुत प्रेम करते हैं। इन दोनों राशियों के बीच मजबूत प्रेम संबंध होता है लेकिन सेक्स लाइफ के मामले में मकर राशि के जातको को थोड़ा धैर्य दिखाने की जरूरत होती है।
मकर और तुला का रिश्ता
अनुशासित और दबंग मकर राशि के जातको को एक सहारे की आवश्यकता होती है और वहीं तुला राशि के जातको को अनुशासन में रहना सीखना होता है। इन दोनों के बीच रिश्ता तभी मजबूत बनता है जब दोनों रिश्ते में कुछ समर्पण करने को तैयार हों।
मकर और वृश्चिक का रिश्ता
मकर और वृश्चिक राशि का मेल बहुत मजबूत होता है। यह दोनों ही रिश्तों में स्थिरता और अनुशासन पसंद करते हैं। इनके बीच बेशक कभी-कभी मतभेद हो जाते हैं लेकिन इनके बीच का प्यार इतना मजबूत होता है कि यह उस मतभेद का क्षणों में ही हल निकाल लेते हैं।
मकर और धनु का रिश्ता
मकर और धनु राशि का व्यक्तित्व एक-दूसरे से काफी विपरीत होता है। इनके स्वभाव इतने अलग होते हैं कि यह एक साथ रह ही नहीं पाते। धनु राशि के जातको को जहां पैसा पानी की तरह बहाना पसंद होता है वहीं मकर राशि के साथियों को यह आदत एक समय के बाद अत्याधिक बुरी लगने लग जाती है। यह तो केवल एक छोटी-सी वजह है, इसके अलावा भी कई कारण होते हैं जिसकी वजह से यह दूर-दूर रहते हैं।
मकर और मकर का रिश्ता
मकर राशि के जातको में आपसी प्रेम काफी अधिक होता है। हालांकि कई बार किसी बाहरी तत्व के कारण इनका रिश्ता डगमगाता भी है लेकिन यह हालातों को आसानी से काबू कर लेते हैं।
मकर और कुंभ का रिश्ता
मकर राशि के जातक रूढ़िवादी और घर से प्यार करने वाले होते हैं जबकि कुंभ राशि को स्वतंत्रता प्यारी होती है। इनके बीच अक्सर दोस्ती प्यार का रूप ले लेती है। मकर राशि की अनुशासन में रहने की प्रकृति कुंभ राशि के लिए थोड़ी मुश्किल साबित होती है। कुंभ राशि द्वारा अगर रिश्ते को भावनात्मक मजबूती दी जाए तो यह रिश्ता काफी मजबूत साबित होता है।
मकर और मीन का रिश्ता
इनके बीच रिश्तों में स्थिरता का कारण यह है कि दोनों एक दूसरे की मांगों को पूरा करते हैं। मकर राशि के वफादार प्रेमियों को इनके स्नेही मीन राशि के साथी से हमेशा प्यार और सम्मान मिलता है। दोनों एक-दूसरे के साथ काफी सुरक्षित महसूस करते हैं और एक बेहतरीन कपल साबित होते हैं।