language
Hindi

वृषभ प्रेम राशिफल

एक वाक्य में वृषभ राशि वाले - विश्वसनीय, स्वस्थ, स्नेही, सावधान लेकिन जिद्दी

जन्मजात इच्छा - स्थिर करने की

यदि आप किसी वृषभ राशि वाले शख्स से प्रेम करते हैं तो आपको धैर्यवान होना पड़ेगा। क्योंकि वृषभ राशि वालों को भागम-भाग से नफरत होती है। वे अपनी कामुकता के प्रति बेहद जागरूक होते हैं और उनके लिए 'स्पर्श' बहुत महत्वपूर्ण है। इसके अलावा, वे भौतिकवादी हैं, वे किसी ऐसे व्यक्ति का साथ पसंद करते हैं जो एक ही तरह के हो।
हमारे विशेषज्ञों के पास जीवन की हर समस्या का समाधान मौजूद है। आप अपना सवाल कर हमारे प्रतिष्ठित ज्योतिषाचार्यों से उपाय प्राप्त कर सकते हैं।

वृषभ राशि - प्रेम एवं संबंध

सूर्य के तहत पैदा हुए वृषभ राशि वालों को कामुक प्रेमी के रूप में जाना जाता है। ये दिल से वफादार होने के कारण वे अपने साथी के साथ कभी-कभी ही सुखद पलों का आनंद लेते हैं। उनकी भावनाएं गहरी और मजबूत होती हैं। वे एक के बाद एक की गई अंतरगता पसंद करते है। ये प्यार में उस शख्स के लिए पूरी तरह से ईमानदार और वफादार होते है जिन्हें वे पसंद करते हैं। वे प्यार और गहरी भावनाओं से संबंधित मामलों में बहुत वफादार होते हैं। वे झगड़ों को पसंद नहीं करते और भ्रम से नफरत करते हैं। वृषभ राशि के जातक दयालू व्यवहार से खुश होते हैं और अपनी प्रतिक्रिया देते हैं। इसके साथ ही ये विलासिता वाली चीजों को भी बहुत पसंद करते हैं। वे हमेशा आपकी सामाजिक और वित्तीय दायित्वों को पूरा करेंगे। ये रिश्ते में ईमानदारी, वफादारी और सच्चाई की तलाश करते हैं। ये राशि चक्र में सबसे ज्यादा स्वामित्व रखने वाले और सुरक्षात्मक रवैया अपनाने वालों में से होते हैं। ये दिल से रोमांटिक और भावनात्मक होते हैं, लेकिन इनमें कन्पनाशक्ति की कमी होती है। उन्हें ठोस रिश्तों और भौतिक वस्तुओं से सुरक्षा मिलती है। वृषभ राशि के व्यक्ति में गुस्सा कम होता है, लेकिन जब वे आवेग में होते हैं तब ये बेहद हठी और खतरनाक सेनानियों की तरह बर्ताव करते हैं। उन्हें किसी को क्षमा दान देना बहुत मुश्किल होता है। आम तौर पर वे अपने हाथों में पारिवारिक व्यय का शासन करना चाहते हैं और उन्हें जिम्मेदारियां बांटने में भी खुशी मिलती है।
वृषभ राशि वाले माता-पिता के रूप में
वृषभ राशि वाले एक जुनूनी माता पिता हैं, जो एक बच्चे के जीवन में अनुशासन और तय दिनचर्या के पक्ष में हैं। वृषभ राशि के मां-बाप बहुत धन कमाते हैं जिससे वे अपने बच्चों को आरामदायक जीवन दे सकें। बच्चों को अच्छे संरक्षित वातावरण का आनंद मिलता है जो उनकी व्यावहारिक रचनात्मकता को बढ़ाने में मदद करता है।
वृषभ राशि वाले बच्चे
वृषभ राशि के बच्चों की क्षमता पूर्ण रूप से विकसित करने के लिए उन्हें नियमित अभ्यास और व्यवहारिक ज्ञान की आवश्यकता होती है। ये बच्चे अक्सर प्रयोग और साहस के बीच उलझ जाते हैं। ऐसे में जीवन में ऊंची उड़ाने भरने के लिए उन्हें आराम से समझाकर उनको प्रोत्साहित करना चाहिए। उनके साथ बहस नहीं करनी चाहिए। ये बच्चों को अड़ियल और जिद्दी बनाता है। ऐसे जातकों के साथ आगे बढ़ने के लिए उन्हें स्थायित्व व सुरक्षा की भावना का अहसास कराना जरूरी है।
वृषभ के साथ संबंध रखने वाले विविध राशि
वृषभ और मेष का रिश्ता
दोनों अच्छे प्रेमी हैं, लेकिन उनकी शादीशुदा जिंदगी बहुत सफल नहीं रहती। क्योंकि दोनों में बहुत अंतर होता है। वृषभ राशि वाले धैयर्वान, विश्वसनीय, प्यारे और खुले दिल वाले होते हैं। वहीं मेष राशि वाले ऊर्जावान, आश्वस्त, गर्म दिमाग वाले और बेचैन होते हैं। दोनों ईष्र्यालू और स्वार्थी होते हैं। वृषभ राशि वाले पैसा खर्च करने से पहले थोड़ा सोचते हैं। जबकि मेष राशि के लोग रुपए लुटाते हैं।
वृषभ और वृषभ का रिश्ता
दोनों अच्छे प्रेमी हैं, लेकिन उनकी शादीशुदा जिंदगी बहुत सफल नहीं रहती। क्योंकि दोनों में बहुत अंतर होता है। वृषभ राशि वाले धैयर्वान, विश्वसनीय, प्यारे और खुले दिल वाले होते हैं। वहीं मेष राशि वाले ऊर्जावान, आश्वस्त, गर्म दिमाग वाले और बेचैन होते हैं। दोनों ईष्र्यालू और स्वार्थी होते हैं। वृषभ राशि वाले पैसा खर्च करने से पहले थोड़ा सोचते हैं। जबकि मेष राशि के लोग रुपए लुटाते हैं।
वृषभ और मिथुन का रिश्ता
मिथुन राशि का स्वभाव अपने चिन्ह की तरह पृथ्वी और वायु के समान है। जबकि वृषभ असंभावित, स्थिर और बहुत ही भरोसेमंद होते हैं। मिथुन बिना ऊंची सोच के, अधीर, दुविधा में पड़ा हुआ और निराशाजनक होते हैं। यदि वे एक-दूसरे के दृष्टिकोण का महत्व रखते हैं तो वे एक दिलचस्प जोड़ी बना सकते हैं। वृषभ मिथुन से अधिक की उम्मीद रखते हैं और मिथुन की तुलना में ज्यादा आलसी होते हैं।
वृषभ और कर्क का रिश्ता
पृथ्वी और जल का लक्षण एक अद्भुत संयोजन हैं। दोनों एक-दूसरे पर निर्भर होते हैं। दोनों ही बहुत भावुक होते हैं और गहराई से जुड़े हुए होते हैं। वृषभ अक्सर कर्क राशि के जातक के मूड से प्रभावित होते हैं, लेकिन उनमें से किसी एक की कभी-भी बरती लापरवाही उनके रिश्ते पर असर डाल सकती है। इन सबके बावजूद दोनों की रुचियां, व्यवहार, गृह-प्रेम, सामाजिक रुख, महत्वाकांक्षा और ऊर्जा एक समान है। जो उन्हें एक सफल जोड़ी बनाती है।
वृषभ और सिंह का रिश्ता
यह एक मजबूत संबंध है। वृषभ राशि के जातक जहां सराहना की मांग करते हैं वहीं सिंह को अनुभूति की आवश्यकता होती है, लेकिन इनमें से किसी को वो चीज नहीं मिलती जिसकी वो एक-दूसरे से मांग कर रहें थे। सिंह राशि के जातक उत्साही, स्नेही, वफादार और असहिष्णु होते हैं। वहीं वृषभ राशि के लोग निशचिंत, आत्मविश्वासी, खुले दिल वाले, धैर्यवान और स्वार्थी होते हैं। मगर दोनों ही आत्म-केंद्रित, ईर्ष्यात्मक और महत्वाकांक्षी होते हैं। उनका रिश्ता उन्हें तभी एक सफल रास्ते की ओर ले जा सकता है जब दोनों में से कोई एक पीछे हटे।
वृषभ और कन्या का रिश्ता
सफलता के लिए यह सबसे अच्छी जोड़ी है क्योंकि दोनों में बहुत कुछ एक जैसा है। दोनों को सबसे अच्छे दोस्त और प्रेमी के रूप में माना जाता है। इनके प्रेम संबंध में पहली नज़र में प्यार हो जाता है। दोनों पृथ्वी साइन होने से ये लोग व्यावहारिक और भौतिक दिमाग वाले होते हैं। इन्हें कड़ी मेहनत करना पसंद होता है और ये बहुत ध्यान रखने वाले एवं अद्भुत रूप से वफादार होते हैं। वे साथ में एक शानदार टीम बनाते हैं। दोनों स्नेहपूर्ण, र्धर्यवान, खुले दिल वाले, दृढ़ निश्चयी, भरोसेमंद और बुद्धिमान होते हैं। उनकी यही समान आदतें उन्हें एक सर्वश्रेष्ठ जोड़ी बनाती है।
वृषभ और तुला का रिश्ता
पृथ्वी और वायु का संयोजन एक बेहतर संतुलन बनाता है। दानों राशियों पर शुक्र राज करता है। इसलिए तुला राशि की चंचलता और वृषभी की स्वाभित्व वाली भावना आगे जाकर संबंध विच्छेद कर सकती है लेकिन ये स्थिर रहेगा। वृषभ राशि तुला की हिचकिचाहट को कम करता है। दोनों में अच्छी चीजें खरीदने की तीव्र इच्छाएं होती हैं। वे बहुत संवेदनशील और जीवन में आराम से बढ़ने वालों में से होते हैं। मगर इन दोनों के बीच रोमांटिक संबंध बहुत कम होती हैं। तुला वाले कूटनीतिक एवं आकर्षक होते हैं। वहीं वृषभ वाले बुद्धिमान और धैर्यवान होते हैं।
वृषभ और वृश्चिक का रिश्ता
दोनों को विपरीत लक्षण का माना जाता है, लेकिन उनका संबंध फायदेमंद होता है, जब उनके बीच समायोजन और सहिष्णुता होती है। दोनों दृढ़निश्चयी, महत्वाकांक्षी, ईर्ष्यालू और स्वार्थी होते हैं। वे जब मिलते हैं तब जुनूनी रहते हैं, लेकिन बाद में वे भड़क उठते हैं। वृश्चिक निर्दोष और विश्वसनीय होते हैं। जबक वृषभ भावनात्मक और भावुक होते हैं। दोनों को एक-दूसरे से कुछ पाने की जरूरत होती है, ये वो चीज होती है जो उनमें कुछ कम है। यही चीज उनके सफल रिश्ते को आगे बढ़ाती है।
वृषभ और धनु का रिश्ता
उनके रिश्ते मुश्किल हैं, लेकिन यदि वृषभ राशि वाले खुद को मजबूत कर लें और धनु राशि वालों को अपने नियंत्रण में कर लें तो उनका रिश्ता आगे बढ़ सकता है। वृषभ राशि वाले गंभीर, प्यारे और धैर्यवान होते हैं। वहीं धुन राशि वाले हंसमुख, ईमानदार और सीधी सोच रखने वालों में से होते हैं। धनु दूसरों पर हावी होना चाहते हैं और एक आसान व मस्तीभरा जीवन जीना पसंद करते हैं। इसी कारण उनका रिश्ता मजाकिया और झगड़ों से भर जाता है। उनके बीच अधिक मतभेद उन्हें एक स्वस्थ रिश्ते की ओर ले जाते हैं, लेकिन यह केवल तभी काम करता है जब धनु को पूर्ण स्वतंत्रता मिलती है।
वृषभ और मकर का रिश्ता
वृष और मकर की समानताएं उन्हें एक बेहतर जोड़ी बनाते हैं और उन्हें एक अच्छा रिश्ता मिलता है। दोनों व्यावहारिक, सावधान, धैर्यवान, महत्वाकांक्षी, कड़ी मेहनत करने वाले, सीधा नजरिया रखने वाले और जीवन में इनके समान लक्ष्य होते हैं। उनके जीवन के प्रत्येक पहलू में काफी समानताएं होती हैं। मकर की वफादारी वृषभ को अधिक सुरक्षित महसूस कराती है। दोनों साथी एक दूसरे के लिए शाश्वत और सहारा प्रदान करने वाले होते हैं।
वृषभ और कुंभ का रिश्ता
धरती और वायु का संगम एक अच्छा मैच नहीं बनाते हैं, क्योंकि दोनों एक-दूसरे के सामने होते हैं। वृषभ राशि वाले धैर्यवान,रूढि़वादी, प्यारे, सावधान और शांत प्रवृत्ति के होते हैं। वहीं कुंभ राशि अनुकूल, अभिनव, स्वतंत्र, वफादार और बौद्धिक स्वभाव के होते हैं। वृषभ राशियों के लिए कंुभ राशि को घर पर बांध कर रखना अर्थात नियंत्रण में रखना मुश्किल हैं। वृषभ राशि वाले एक रिश्ते में सुरक्षा चाहते हैं वहीं कुंभ राशि के लोग इसमें खुलापन चाहते हैं। कुंभ राशि वाले वृषभ की स्थिरता की सराहना करते हैं और वृषभ उनके खुलेपन की।
वृषभ और मीन का रिश्ता
इसमें दो अलग-अलग संकेतों के बीच एक मीठा सा और खुशहाल बंधन होता है। वृषभ जातक धैर्यवान, स्वाथी और ईष्यालू होते हैं। जबकि मीन राशि के लोग संवेदनशील, कल्पनाशील, निस्वार्थ और रहस्यमयी होते हैं। जुनूनी वृषभ और कामुक मीन मिलकर एक अच्छा संयोजन बनाते हैं। रिश्ते केवल तब ही अच्छे से काम कर सकते हैं जब तक वृषभ राशि वाले मीन पर अपना वर्चस्व कामय नहीं करते।